रेकी की दीक्षा : Reiki Attunement

रेकी की  दीक्षा तीन या चार चरणों में होती हैं जिसमे तीसरे चरण को दो भागों में बांटा गया है | लेवल एक लेवल दो देवेल तीन A और तीन B ( रेकी लेवल तीन और चार )   रेकी लेवल एक : दीक्षा की संख्या – 4 (Number of Initiation ) इस दीक्षा में मास्टर … Read more

रेकी सभी के लिए :- एक वैज्ञानिक विश्लेषण

रेकी कोई क्रिया नहीं बल्कि ऊर्जा का प्रवाह है | रेकी चिकित्सक सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड में हर तरफ मौजूद ईश्वरीय उर्जा को अपने माध्यम से प्रदान करता है | इसके बारे में एक प्रचलित कहावत है की “आप रेकी को नहीं बल्कि रेकी आपको चुनता है” | कुछ लोग जन्म के साथ ही इसे लेकर पैदा … Read more

आज्ञाचक्र ध्‍यान अथवा अंतर त्राटक अथवा ध्‍यान साधना प्रयोग

जिसे हम ध्‍यान कहते है वो आज्ञा चक्र ध्‍यान ही है मगर इसको सीधे ही करना लगभग असम्‍भव है उसके लिये साधक को पहले त्राटक करना चाहिये और एकाग्रता हासिल होने पर ध्‍यान का अभ्‍यास आरम्‍भ करना चाहिये। इस त्राटक में हमकों अपनी आंख के अंदर दिखने वाले अंधेरे में नजर जमानी होती है मगर … Read more

धूमावती गूढ़ रहस्यम !

माँ धूमावती दस  महाविद्याओं  में सातवीं  महाविद्या हैं। बगलामुखी की अंगविद्या हैं इसीलिए  माँ बगलामुखी  से साधना की आज्ञा लेनी चाहिए और प्रार्थना करना चाहिए की माँ पूरी कराये . ज्ञान के आभाव में या कौतुहल से किताब , इन्टरनेट से पढ़कर प्रयोग करने से विपत्ति में भी फसते देखे गये हैं . बगलामुखी साधना करने … Read more

॥ होश में रहकर जीने का तरीका ॥

ओशो पहला चरण: अपने शरीर को लेकर पूरी तरह सचेत होना। . . . बुध ने कहा, जब तुम चलते हो तब तुम्हारे मन को पता होना चाहिए कौन-सा पैर आगे गया और कौन-सा पैर पीछे गया। जब तुम भोजन करते हो, तब खुद को भोजन करते हुए देखो। भोजन मुह में किसी मशीन कि तरह … Read more

हमारे संस्‍कार

कई हज़ार वर्ष पुरानी बात है एक तपस्वी ने आम का बगीचा लगाने का विचार किया अपनी कुटिया के आस पास। वह गाँव में गया और लोगों से आम की कुछ कलमें मांगी। लोगों ने कहा कि आप तो तपस्वी हैं आपको तो बबूल को भी अपने प्रेम से आम का पेड़ बना सकते हैं। … Read more

6. नासाग्र त्राटक ध्यान (Yog Sutra Saadhna)

इसमें बतायी गयी नासाग्र को देखने की विधि भी एक प्रकार का त्राटक ही है।। अभी तक आप लोग दीवार पर किसी बिन्‍दु को देखने के अभ्‍यास को ही त्राटक समझते रहे है और इसमें नाक को उस बिन्‍दु के बदले त्राटक के लिये इस्‍तेमाल किया गया है। आप लोग किसी विधि को शार्टकट या … Read more

एक गुजारिश

भाईयो मै आप सब से ईस पोस्ट के माध्यम से अपने दिल की बात रखना चाहता हू मै एक सामान्य ईसान हूँ और ध्यान के माध्यम से मैने गहरी शाँति की अवस्था का अनुभव प्राप्त किया है मै कोई दिव्य आत्मा नही बल्कि एक आम ईँसान हूँ पर मैने अपना एक लक्ष्य रखा की सदा … Read more

5. मंत्र जप की सही विधि

chanting+near+hut2

मित्रों मंत्र जप से तो हम सभी परिचित हैं | किसी भी मंत्र को बार बार दोहराना या उच्चारण ही  मंत्र जप कहलाता है | हम सभी कभी न कभी, जाने अनजाने किसी न किसी समय पर मन्त्र का उच्चारण करते हैं | यही जप है | आज हम इसे और विस्तार से स्पस्ट करने … Read more