हमारे संस्‍कार

कई हज़ार वर्ष पुरानी बात है एक तपस्वी ने आम का बगीचा लगाने का विचार किया अपनी कुटिया के आस पास। वह गाँव में गया और लोगों से आम की कुछ कलमें मांगी। लोगों ने कहा कि आप तो तपस्वी हैं आपको तो बबूल को भी अपने प्रेम से आम का पेड़ बना सकते हैं। … Read more

प्रश्‍न: क्‍या बिना गुरू के साधना कर सकते हैं ?

उत्‍तर: ध्‍यान एक ऐसी प्रक्रिया है जिसको कोई भी कर सकता है। यदि आपके पास गुरू ना हो तो भी आप ईश्‍वर को अपना गुरू या मार्गदर्शक मानकर साधना आरम्‍भ कर सकते है। यदि ईश्‍वर ने आपके लिये कोई गुरू नहीं निश्चित किया है तो वो स्‍वयं आपका मार्गदर्शन करेंगे। दुनिया में कोई गुरू ईश्‍वर … Read more

साधना में शीघ्र सफलता के लिये आवश्‍यक शर्ते

ये पोस्‍ट AWGP – All World Gayatri Pariwar की साइट से ली गयी है व ये अनुभव उच्‍च अवस्‍था तक पहुच चुके साधकाें के है। सार्थक उपासना के मर्म उपासना में मन स्वाभाविक रूप से लगे तथा अंतरंग क्षमताओं के संयोग से साधक उसका अधिक लाभ उठा सके, इसके लिये कुछ नियम हैं। तीन महत्व … Read more

ज्ञान कोई जादू से नहीं बल्कि सतत प्रयास से संभव

त्राटक में सावधानियॉ दोस्‍तों मै सुबह उगते हुये लाल सूर्य पर रोज दस मिनट त्राटक करता था लेकिन एक दिन कुछ देर से शुरू किया।। पता नही चला कि उसकी तीव्रता बदल चुकी है। केवल दो या तीन मिनट ही कर पाये तो आंखों के अंदर कुछ अजीब सा फील हुआ तो त्राटक बंद करके … Read more

साधना में ब्रहमचर्य

साधना में ब्रहमचर्य काम क्रिया में असमर्थ होने का मतलब ये नही कि वो ब्रहमचारी है।। जिसके मन में ही काम वासना ना उठे वो ब्रहमचारी है। मन में काम वासना उठ रही है हम उसका दमन कर रहे है ये ब्रहमचर्य नही है। इसका जितना दमन करेंगे ये उतना ही सिर उठायेगी।। अध्‍यात्‍म काे … Read more

एक गुजारिश

भाईयो मै आप सब से ईस पोस्ट के माध्यम से अपने दिल की बात रखना चाहता हू मै एक सामान्य ईसान हूँ और ध्यान के माध्यम से मैने गहरी शाँति की अवस्था का अनुभव प्राप्त किया है मै कोई दिव्य आत्मा नही बल्कि एक आम ईँसान हूँ पर मैने अपना एक लक्ष्य रखा की सदा … Read more

कुण्‍डलिनी जागरण

chakra chart

भाइयों जबरदस्‍ती कुण्‍डलिनी जागरण का प्रयास भी परमाणु विस्‍फोट की तरह एक खतरनाक प्रकिया है इसी लिये इण्‍टरनेट पर सिर्फ कोई लेख पढ कर कुण्‍डलिनी जागरण का प्रयास ना करे व किसी जानकार की छत्रछाया में ही कुण्‍डलिनी जागरण का प्रयास करे ।। परन्‍तु यदि आप साधारण ध्‍यान साधना करते रहेंगे तो स्‍वत ही अापकी … Read more

सौ ऊंट

Camel fair

अजय राजस्थान के किसी शहर में रहता था . वह ग्रेजुएट था और एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता था . पर वो अपनी ज़िन्दगी से खुश नहीं था , हर समय वो किसी न किसी समस्या से परेशान रहता था और उसी के बारे में सोचता रहता था . एक बार अजय के शहर … Read more

समय की कमी

प्रायः लोग कहते हैं कि मैं तो सारे दिन काम करता हूं। मैं योग या ध्‍यान साधना कैसे कर सकता हूं? किंतु ऐसे लोगों को मैं बताना चाहता हूं कि योग का अर्थ है लगातार अभ्यास। आध्यात्मिकता भी निरंतर अभ्यास ही है। आध्यात्मिकता का अर्थ क्या है? आध्यात्मिकता का अर्थ बहुत सरल है। आध्यात्मिकता सादगी … Read more