शिवलिंग का आध्यात्मिक रहस्य

Shivling The ultimate wisdom

ॐ नमः शिवाय सम्भोग क्रिया में चित्त से कुछ ही क्षण के लिए ही सही अहंभाव लुप्त हो जाता है और आनंद घटित होता है । इस समय प्रेम का ही अस्तित्व रह जाता है , क्रोध , घृणा , लोभ , मोह इत्यादि विकृतियों का नामोनिशान नहीं रहता। क्योंकि ये विकृतियां तभी तक हैं … Read more

धूमावती गूढ़ रहस्यम !

माँ धूमावती दस  महाविद्याओं  में सातवीं  महाविद्या हैं। बगलामुखी की अंगविद्या हैं इसीलिए  माँ बगलामुखी  से साधना की आज्ञा लेनी चाहिए और प्रार्थना करना चाहिए की माँ पूरी कराये . ज्ञान के आभाव में या कौतुहल से किताब , इन्टरनेट से पढ़कर प्रयोग करने से विपत्ति में भी फसते देखे गये हैं . बगलामुखी साधना करने … Read more

5. मंत्र जप की सही विधि

chanting+near+hut2

मित्रों मंत्र जप से तो हम सभी परिचित हैं | किसी भी मंत्र को बार बार दोहराना या उच्चारण ही  मंत्र जप कहलाता है | हम सभी कभी न कभी, जाने अनजाने किसी न किसी समय पर मन्त्र का उच्चारण करते हैं | यही जप है | आज हम इसे और विस्तार से स्पस्ट करने … Read more

Meditation through Baglamukhi beeja mantra

Baglamukhi , Beeja mantra , meditation

  ध्यान मतलब निर्विचार अवस्था . चांदनी रात में जिस तरह तालाब में कंकड़ मरने से चाँद नहीं दिखता और अगर दिखता भी है तो साफ़ नहीं . वैसे ही हमारा मन विचारों की तरंगों से इस तरह कम्पित है की अपने अंदर बैठे परमात्मा की झलक ही नहीं मिलती . और अगर कभी मिलती … Read more

बगलामुखी मंदिर नलखेड़ा ( Baglamukhi temple )

बगलामुखी मंदिर नलखेड़ा , मध्य प्रदेश

  सर्वसिद्ध माँ बगलामुखी जिला शाजापुर म.प्र. स्थित नलखेड़ा नगर का धार्मिक एवं तांत्रिक द्रिष्टि से महत्त्व है . तांत्रिक साधना के लिए उज्जैन के बाद नलखेड़ा का नाम आता है . कहा जाता है की जिस नगर में माँ बगलामुखी विराजित हो , उस नगर , को संकट देख भी नहीं पाता | बताते … Read more

Mata Baglamukhi (माता बगलामुखी )

IMG_366716421417874

दस महाविद्याओं में बगलामुखी महाविद्या का आठवां स्थान है . हर महाविद्या अपने आप में परिपूर्ण हैं और साधकों को धर्म , अर्थ , काम और मोक्ष चारो पुरुषार्थ प्रदान करती हैं . लेकिन हर महाविद्या की अपनी खासियत होती है और बगलामुखी का प्राकट्य मूलतः स्तम्भन के लिए हुआ था . भगवान् विष्णु ने … Read more